हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल


अजनबी शायरी हिंदी में – मैं तो खुद अपने लिए


मैं तो खुद अपने लिए अजनबी हूँ तू बता
मुझ से जुदा हो कर तुझे कैसा लगा




Related Posts

अजनबी शायरी हिंदी में – बदल लेंगे हम खुद को

बदल लेंगे हम खुद को इतना, की तुम भी न पहचान पाओगे हमें।। अगर कभी सोचोगे हमारे बारे में, हमें पूरी तरह अजनबी पाओगे।

अजनबी शायरी हिंदी में – हम कुछ ना कह सके

हम कुछ ना कह सके उनसे, इतने जज्बातों के बाद, हम अजनबी के अजनबी ही रहे, इतनी मुलाकातो के बाद!

अजनबी शायरी हिंदी में – अजनबी था तो मेरे जवाबों

अजनबी था तो मेरे जवाबों पर तुम्हे यकीन था कम्बख्त जान का सबब बन गयी है ये जान पहचान

अजनबी शायरी हिंदी में – कल तक तो सिर्फ़

कल तक तो सिर्फ़ एक अजनबी थे तुम… आज दिल की हर एक धड़कन पर हुकूमत है तुम्हारी…

अजनबी शायरी हिंदी में – अजनबी कोई समझ लेता है

अजनबी कोई समझ लेता है, कोई अन्जान समझ लेता है, दिल है दीवाना, हर तबस्सुम को जान पहचान समझ लेता है

अजनबी शायरी हिंदी में – न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ

न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ से आ गयी उस अजनबी के लिए, की मेरा दिल भी उसकी खातिर अक्सर मुझसे रूठ जाया करता है …..

अजनबी शायरी हिंदी में – मेरे अज़ीज़ ही मुझ को

मेरे अज़ीज़ ही मुझ को समझ न पाए हैं, हम अपना हाल किसी अजनबी से क्या कहते….

अजनबी शायरी हिंदी में – उसकी हर एक शिकायत देती

उसकी हर एक शिकायत देती है मुहब्बत की गवाही….. अजनबी से वर्ना कौन हर बात पर तकरार करता है…..

Heart Broken Shayari Hindi Mein – कट रही है ज़िंदगी आराम से

उन का ग़म उन का तसव्वुर उन की याद कट रही है ज़िंदगी आराम से

तुम्हारी याद शायरी हिंदी में – तुम्हारा ज़िक्र तुम्हारी तमन्ना तुम्हारी याद

तुम्हारा ज़िक्र, तुम्हारी तमन्ना, तुम्हारी याद, वक़्त कितना क़ीमती है इन दिनों…


Leave a Reply

PalPalDilKePass © 2016