हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल


खुश्बू शायरी हिंदी में – सफर वहीं तक है जहाँ


सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर,
खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो..!!




Related Posts

खुश्बू शायरी हिंदी में – वक्त के मोड़ पे ये

वक्त के मोड़ पे ये कैसा वक्त आया है जख्म दिल का जुबाँ पर आया है न रोते थे कभी कांटो की चुभन से आज न जाने क्यो फूलो की खुशबू से रोना आया है…

खुश्बू शायरी हिंदी में – खुशबू तेरी प्यार की मुझे

खुशबू तेरी प्यार की मुझे महका जाती है, तेरी हर बात मुझे बहका जाती है, साँस तो बहुत देर लेती है आने में, हर साँस से पहले तेरी याद आ जाती है।

खुश्बू शायरी हिंदी में – सुंदरता हो न हो सादगी

सुंदरता हो न हो, सादगी होनी चाहिए, खुशबू हो न हो, महक होनी चाहिए, रिश्ता हो न हो, बंदगी होनी चाहिए, मुलाकात हो न हो, बात होनी चाहिए,

खुश्बू शायरी हिंदी में – तुम से नाता है यूँ

तुम से नाता है यूँ वफाओं का, जैसे खुशबू से है हवाओं का, जैसे रिश्ता है धुप छाओं का, जैसे जिस्म से रूह और जान का !

खुश्बू शायरी हिंदी में – हमारे सीने में भी

हमारे सीने में भी खुशबू ने सिर रखा था हमारे हाथो में भी कभी फुलो की डाली थी

तुम्हारी याद शायरी हिंदी में – एक शाम आती है तुम्हारी

एक शाम आती है तुम्हारी याद लेकर एक शाम जाती है तुम्हारी याद देकर पर मुझे तो उस शाम का इंतेज़ार है जो आए तुम्हे साथ लेकर..!!

वफ़ा शायरी हिंदी में – परवाह करने वाले रूला जाते

परवाह करने वाले रूला जाते है, अपना समझने वाले पराया बना जाते है, चाहे जितनी वफाऐं कर लो इनसे, न छोडेगे तुमको कहकर छोड जाते हैं….!

इबादत शायरी हिंदी में – तेरे पास में बैठना भी

तेरे पास में बैठना भी इबादत तुझे दूर से देखना भी इबादत…. न माला, न मंतर, न पूजा, न सजदा तुझे हर घड़ी सोचना भी इबादत….

चैन शायरी हिंदी में – आँखों मे ख्वाब उतरने नही

आँखों मे ख्वाब उतरने नही देता वो शख्स मुझे चैन से मरने नही देता बिछड़े तो अजब प्यार जताता है खतों मे मिल जाए तो फिर हद से गुजरने नही देता.

आरज़ू शायरी हिंदी में – आज ..खुद को तुझमे डुबोने

आज ..खुद को तुझमे डुबोने की आरज़ू है। क़यामत तक सिर्फ तेरा होने की आरज़ू है। किसने कहा गले से लगा ले मुझको, मग़र तेरी गोद में सर रखकर सोने की आरज़ू है।


Leave a Reply

PalPalDilKePass © 2016