हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल


बोसा शायरी हिंदी में – बोसा जो रुख़ का देते


बोसा जो रुख़ का देते नहीं लब का दीजिए
ये है मसल कि फूल नहीं पंखुड़ी सही




Related Posts

बोसा शायरी हिंदी में – एक बोसे के तलबगार हैं

एक बोसे के तलबगार हैं हम और माँगें तो गुनहगार हैं हम

बोसा शायरी हिंदी में – मिल गए थे एक बार

मिल गए थे एक बार उस के जो मेरे लब से लब उम्र भर होंटों पे अपने मैं ज़बाँ फेरा किए

बोसा शायरी हिंदी में – दिखा के जुम्बिश-ए-लब ही तमाम

दिखा के जुम्बिश-ए-लब ही तमाम कर हम को न दे जो बोसा तो मुँह से कहीं जवाब तो दे

बोसा शायरी हिंदी में – ले लो बोसा अपना वापस

ले लो बोसा अपना वापस किस लिए तकरार की क्या कोई जागीर हम ने छीन ली सरकार की

बोसा शायरी हिंदी में – बोसा-ए-रुख़्सार पर तकरार रहने दीजिए

बोसा-ए-रुख़्सार पर तकरार रहने दीजिए लीजिए या दीजिए इंकार रहने दीजिए

बोसा शायरी हिंदी में – एक बोसा होंट पर फैला

एक बोसा होंट पर फैला तबस्सुम बन गया जो हरारत थी मिरी उस के बदन में आ गई

बोसा शायरी हिंदी में – क्या क़यामत है कि आरिज़

क्या क़यामत है कि आरिज़ उन के नीले पड़ गए हम ने तो बोसा लिया था ख़्वाब में तस्वीर का

Heart Broken Shayari Hindi Mein – कट रही है ज़िंदगी आराम से

उन का ग़म उन का तसव्वुर उन की याद कट रही है ज़िंदगी आराम से

तुम्हारी याद शायरी हिंदी में – तुम्हारा ज़िक्र तुम्हारी तमन्ना तुम्हारी याद

तुम्हारा ज़िक्र, तुम्हारी तमन्ना, तुम्हारी याद, वक़्त कितना क़ीमती है इन दिनों…

Hindi Sad Shayari – मिलने की तरह मुझ से वो पल भर नहीं मिलता

मिलने की तरह मुझ से वो पल भर नहीं मिलता दिल उस से मिला जिस से मुक़द्दर नहीं मिलता


Leave a Reply

PalPalDilKePass © 2016