हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल


Category: क़यामत शायरी

क़यामत शायरी हिंदी में – सँभलने दे मुझे ऐ ना-उम्मीदी


सँभलने दे मुझे ऐ ना-उम्मीदी क्या क़यामत है
कि दामान-ए-ख़याल-ए-यार छूटा जाए है मुझ से!

क़यामत शायरी हिंदी में – एक मुलाक़ात करो हमसे इनायत

एक मुलाक़ात करो हमसे इनायत समझकर
हर चीज़ का हिसाब देंगे क़यामत समझकर
मेरी दोस्ती पे कभी शक ना करना
हम दोस्ती भी करते है इबादत समझ कर

क़यामत शायरी हिंदी में – अगर देखनी है क़यामत तो


अगर देखनी है क़यामत तो चले आओ हमारी महफ़िल में,.,
सुना है आज महफ़िल में वो बेनक़ाब आ रहे हैं

क़यामत शायरी हिंदी में – मोहब्बत ये नहीं कि तुम

मोहब्बत ये नहीं कि तुम तड़पो और उसे खबर भी न हो
मोहब्बत ये है की तुम्हारा दिल तड़पे तो उसके दिल पे क़यामत गुज़रे…

क़यामत शायरी हिंदी में – क़यामत के रोज़ फ़रिश्तों ने

क़यामत के रोज़ फ़रिश्तों ने जब माँगा उससे ज़िन्दगी का हिसाब;
ख़ुदा, खुद मुस्कुरा के बोला, जाने दो, ‘मोहब्बत’ की है इसने।

PalPalDilKePass © 2016