हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल


Category: गैर शायरी

गैर शायरी हिंदी में – दर्द का सबब बढ़ जाता


दर्द का सबब बढ़ जाता है और भी,
जब तेरे होते हुए भी गैर हमें तसल्ली देते है….!!!

गैर शायरी हिंदी में – मैने कब कहा मुझे गुलाब


मैने कब कहा मुझे गुलाब दे
या फिर मुहब्बत से आवाज दे

आज बहुत उदास है दिल मेरा
गैर बन के ही सही मगर मुझे तू आवाज दे

PalPalDilKePass © 2016