हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल

Category: पराया शायरी

पराया शायरी हिंदी में – फ़लक़ पर जिस दिन चाँद


फ़लक़ पर जिस दिन चाँद ना हो आसमाँ पराया लगता है…
एक दिन जो घर में ‘माँ’ न हो तो घर पराया लगता है

पराया शायरी हिंदी में – दिल जो टूटा तो कई

दिल जो टूटा तो कई हाथ दुआ को उठे
ऐसे माहौल में अब किस को पराया समझूं l


पराया शायरी हिंदी में – यूँ ज़िन्दगी से मेरे मरासिम


यूँ ज़िन्दगी से मेरे मरासिम हैं आज कल,
हाथों में जैसे थाम ले कोई पराया हाथ

PalPalDilKePass © 2016