हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल

Category: महफ़िल शायरी

महफ़िल शायरी हिंदी में – बुला कर तुम ने महफ़िल


बुला कर तुम ने महफ़िल में हमें ग़ैरों से उठवाया
हमीं ख़ुद उठ गए होते इशारा कर दिया होता…

महफ़िल शायरी हिंदी में – अगर देखनी है कयामत तो

अगर देखनी है कयामत तो चले आओ हमारी महफिल मे. .
सुना है आज की महफिल मे वो बेनकाब आ रहे हैँ…!!!


महफ़िल शायरी हिंदी में – जिंदगी एक आइना है यहाँ

जिंदगी एक आइना है, यहाँ पर हर कुछ छुपाना पड़ता है|
दिल में हो लाख गम फिर भी महफ़िल में मुस्कुराना पड़ता है |

महफ़िल शायरी हिंदी में – जाने कब-कब किस-किस ने कैसे-कैसे


जाने कब-कब किस-किस ने कैसे-कैसे तरसाया मुझे,
तन्हाईयों की बात न पूछो महफ़िलों ने भी बहुत रुलाया मुझे

महफ़िल शायरी हिंदी में – मैंने आंसू को समझाया भरी

मैंने आंसू को समझाया, भरी महफ़िल में ना आया करो,
आंसू बोला, तुमको भरी महफ़िल में तन्हा पाते है,
इसीलिए तो चुपके से चले आते है…

महफ़िल शायरी हिंदी में – वो अपने मेहंदी वाले हाथ

वो अपने मेहंदी वाले हाथ मुझे दिखा कर रोई,
अब मैं हुँ किसी और की, ये मुझे बता कर रोई,

कैसे कर लुँ उसकी महोब्बत पे शक यारो…!!
वो भरी महफिल में मुझे गले लगा कर रोई…

महफ़िल शायरी हिंदी में – देख के हमको वो सर

देख के हमको वो सर झुकाते हैं,
बुला कर महफ़िल में नजरें चुराते हैं,

नफरत हैं तो कह देते हमसे,
गैरों से मिलकर क्यों दिल जलाते हैं..

महफ़िल शायरी हिंदी में – हमारे बाद अब महफ़िल में

हमारे बाद अब महफ़िल में अफ़साने बयां होंगे
बहारे हमको ढूँढेंगी ना जाने हम कहाँ होंगे
ना हम होंगे ना तुम होंगे और ना ये दिल होगा फिर भी
हज़ारो मंज़िले होंगी हज़ारो कारँवा होंगे

PalPalDilKePass © 2016