हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल


Category: मुलाक़ात शायरी

मुलाक़ात शायरी हिंदी में – छू जाती है तुम्हारी बातेकितनी

छू जाती है तुम्हारी बाते,कितनी दफ़े यूँ ही ख़्वाब बन के,
कौन कहता है कि दूर रह कर मुलाक़ात नहीं होती।

मुलाक़ात शायरी हिंदी में – ना मुलाक़ात याद रखना ना


ना मुलाक़ात याद रखना, ना पता याद रखना,
बस इतनी सी आरज़ू है, मेरा नाम याद रखना..

मुलाक़ात शायरी हिंदी में – लग जा गले कि फिर


लग जा गले कि फिर
ये हसीं रात हो न हो
शायद फिर इस जनम में
मुलाक़ात हो न हो

PalPalDilKePass © 2016