हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल

Ahmad Faraz Ki Shayari – बस यही आदत उसकी


बस यही आदत उसकी मुझे अच्छी लगती है फ़राज़
उदास कर के मुझे भी वो खुश नहीं रहता

Ahmad Faraz Ki Shayari – बडा नाज़ था उनको अपने

बडा नाज़ था उनको अपने परदे पे “फराज़”
कल रात वो ख्वाब में सर-ऐ-आम चले आये


Ahmad Faraz Ki Shayari – फिर इतने मायूस क्यूँ हो


फिर इतने मायूस क्यूँ हो उसकी बेवफाई पर फ़राज़
तुम खुद ही तो कहते थे की वो सब से जुदा है

Page 10 of 226« First...89101112...203040...Last »
PalPalDilKePass © 2016