हिंदी शायरी - Romantic And Sad Hindi Poetry

रोमांटिक और दर्द भरी हिंदी शेर ओ शायरी संग्रह - २ लाइन शायरी, 4 लाइन शायरी और ग़ज़ल

Ahmad Faraz 2 Lines – शिद्दत-ए-दरद से


शिद्दत-ए-दरद से शर्मिंदा नहीं मेरी वफा “फराज़”
दोस्त गहरे हैं तो फिर जख्म भी गहरे होंगे

Ahmad Faraz 2 Lines – वो रोज़ देखता है

वो रोज़ देखता है डूबे हुए सूरज को फ़राज़
काश मैं भी किसी शाम का मंज़र होता


Ahmad Faraz 2 Lines – वो बारिश में कोई सहारा ढूँढता है


वो बारिश में कोई सहारा ढूँढता है फ़राज़
ऐ बादल आज इतना बरस की मेरी बाँहों को वो सहारा बना ले

Page 5 of 226« First...34567...102030...Last »
PalPalDilKePass © 2016