आरज़ू शायरी हिंदी में – आज ..खुद को तुझमे डुबोने

आज ..खुद को तुझमे डुबोने की आरज़ू है।
क़यामत तक सिर्फ तेरा होने की आरज़ू है।
किसने कहा गले से लगा ले मुझको, मग़र
तेरी गोद में सर रखकर सोने की आरज़ू है।

One comment

  1. Unke mijaaz badal gye , humari ulfat na badli ..
    Dil zaroor toota magar chahat na chhooti..
    Niklte rhe aansoo betahasha teri aarzoo mei..
    Aakhri saans bhi apni tere naam pe tooti…

Leave a Reply