तक़दीर शायरी हिंदी में – अज़ीज़ भी वो है नसीब

अज़ीज़ भी वो है, नसीब भी वो है
दुनिया की भीड़ मैं करीब भी वो है
उनकी दुआओ से चलती है ज़िंदगी
क्योंकि
खुदा भी वो है और तक़दीर भी वो है..


Leave a Reply




पढ़िए…कुछ विशेष शायरी कलेक्शन - जिनमें स्पेशल शब्दों को शामिल किया गया है

इन्हे भी पढ़े…..