तमन्ना शायरी हिंदी में – पलकों में कैद रहने दो

पलकों में कैद रहने दो सपनो को,
उन्हें तो हकीक़त में बदलना है,
इन आँखों की तो एक ही तमन्ना है,
की हर वक़्त आपको मुस्कुराते देखना है.

One comment

Leave a Reply