हिंदी सुप्रभात शायरी – इंसान चेहरा तो साफ़ रखता

इंसान चेहरा तो साफ़ रखता है
जिस पर लोगों की नज़र होती है;
मगर;
दिल को साफ़ नहीं रखता जिस पर
‘अल्लाह’ की नजर होती है।
सुप्रभात!

Leave a Reply