Month: January 2017

महबूब शायरी हिंदी में – इश्क़वालों में बड़प्पन बहुत ज़रूरी

इश्क़वालों में बड़प्पन बहुत ज़रूरी है ||
छोटे दिल मे मेहबूब बसाये नहीँ जातें ||

फन्नी शायरी हिंदी में – पलकों Ko झुका कर सलाम

पलकों Ko झुका कर सलाम करते हैं
दिल की हर दुआ आपके नाम करते हैं

कबूल हो तो मुस्कुरा देना,
आपकी मुस्कराहट पे,
पूरी कोलगेट कंपनी क़ुर्बान करते हैं!

इंकार शायरी हिंदी में – तुम्हारे लबों पे इकरार है…

तुम्हारे लबों पे इकरार है…
मेरे लबों पे इनकार है…
यहीं तो सब निशानियाँ है…
शायद इसी का नाम प्यार है…

क़यामत शायरी हिंदी में – क़यामत के रोज़ फ़रिश्तों ने

क़यामत के रोज़ फ़रिश्तों ने जब माँगा उससे ज़िन्दगी का हिसाब;
ख़ुदा, खुद मुस्कुरा के बोला, जाने दो, ‘मोहब्बत’ की है इसने।