Month: December 2018

यकीन शायरी हिंदी में – परिन्दो को मिलेगी मन्जिल यकीनन

परिन्दो को मिलेगी मन्जिल यकीनन,, ये फैले हुए उनके पन्ख बोलते हैं।।
वो लोग रहते हैं खामोश अक्सर,, जमाने में जिनके हुनर बोलते हैं।।

मौसम शायरी हिंदी में – रुका हुआ है अज़ब धुप

रुका हुआ है अज़ब धुप छाँव का मौसम,
गुज़र रहा है कोई दिल से बादलों की तरह..!!