खफा शायरी हिंदी में – हर एक शख्स खफा मुझसे

हर एक शख्स खफा मुझसे अंजुमन में था..
क्योंकि मेरे लब पे वही था जो मेरे मन में था..


खफा शायरी हिंदी में – हम ज़िन्दगी में आपसे खफा

हम ज़िन्दगी में आपसे खफा हो नहीं सकते,
मोहब्बत के रिश्ते बेवफा हो नहीं सकते,
आप भले ही याद किये बिना सो जाओ,
हम याद किये बिना सो नहीं ..

खफा शायरी हिंदी में – परवाह नहीं अगर ये जमाना

परवाह नहीं अगर ये जमाना खफा रहे।
बस इतनी सी दुआ है की आप मेहरबां रहे।


खफा शायरी हिंदी में – इस अजनबी दुनिया में अकेला

इस अजनबी दुनिया में अकेला ख्वाब हूँ मै
सवालो से खफा छोटा सा जवाब हूँ मै
आँख से देखोगे तो खुश पाओगे
दिल से पूछोगे तो दर्द का सैलाब हूँ मै……..

खफा शायरी हिंदी में – लब तो खामोश रहेंगे…

लब तो खामोश रहेंगे…
ये वादा है मेरा तुमसे…………
गर कह बैठें कुछ निगाहें…
तो खफा मत होना….!!!!


खफा शायरी हिंदी में – आग दिल मे लगी जब

आग दिल मे लगी जब वो खफा हुए,
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए,
कर के वफ़ा कुछ दे ना सके वो,
पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफा हुए




पढ़िए…कुछ विशेष शायरी कलेक्शन - जिनमें स्पेशल शब्दों को शामिल किया गया है

इन्हे भी पढ़े…..