गुरूर शायरी हिंदी में – तेरे गुरूर को देखकर तेरी

तेरे गुरूर को देखकर तेरी तमन्ना ही छोड़ दी हमने,
जरा हम भी तो देखें कौन चाहता है तुम्हें हमारी तरह।

गुरूर शायरी हिंदी में – कब्र की मिट्टी हाथ में

कब्र की मिट्टी हाथ में लिए सोचता हूँ ; कि
मरने के बाद गुरूर कहाँ जाता है!!



गुरूर शायरी हिंदी में – ऐ भगवान वो दिन कभी मत

ऐ भगवान,
वो दिन कभी मत दिखाना
की मुझे अपने आप पर गुरूर हो
जाए,
रखना इस तरह सब के
दिलों में,
की हर कोई दुआ देने को
मजबूर हो जाये

गुरूर शायरी हिंदी में – साफ़ दामन का दौर तो

साफ़ दामन का दौर तो कब का खत्म हुआ साहब…..
अब तो लोग अपने धब्बों पे गुरूर करने लगे हैं….!



गुरूर शायरी हिंदी में – उनका गुरूर ए हुस्न तो

उनका गुरूर ए हुस्न तो देखो…….. चेहरे पर तो नकाब है पर,
आँखों मेँ शर्म का परदा तक नहीं..