तन्हाई शायरी हिंदी में – मेरे मरने पर किसी को

मेरे मरने पर किसी को ज्यादा फर्क नहीं होगा,
बस तन्हाई रोएगी कि मेरा हमसफ़र चला गया..


तन्हाई शायरी हिंदी में – ख़ुशी तन्हाई गहराई भरी बातें

ख़ुशी, तन्हाई, गहराई भरी बातें
राज़-ए-दिल बयाँ कर गयी तुम्हारीं आँखे.


तन्हाई शायरी हिंदी में – मेरी तन्हाई का सबब पूछ

मेरी तन्हाई का सबब पूछ के वो खुद क्यों तनहा हो गए,
हमने बयां की थी हकीकत, मगर वो ख्वाबों में खो गए.


तन्हाई शायरी हिंदी में – याद करते है तुमहै तन्हाई

याद करते है तुमहै तन्हाई में,
दिल डूबा है ग़मों की गहराई में,
हमें मत ढूँढना दुनिया की भीड़ में,
हम मिलेंगे तुम्है तुम्हारी परछाईं में,