Category: बेवफा शायरी

बेवफा शायरी हिंदी में – कुछ तो बेवफाई मुझ मे

कुछ तो बेवफाई मुझ मे भी है…

जिंदा हुँ तेरे बगैर…!!

बेवफा शायरी हिंदी में – तेरे होने पर खुद को

तेरे होने पर खुद को तनहा समझू !
मैं बेवफा हूँ या तुझको बेवफा समझू !!
ज़ख्म भी देते हो मलहम भी लगाते हो !
ये तेरी आदत हैं या इसे तेरी अदा समझू!!

बेवफा शायरी हिंदी में – पहले इश्क फिर धोखा फिर

पहले इश्क फिर धोखा फिर बेवफ़ाई,
बड़ी तरकीब से एक शख्स ने तबाह किया..