हसरत शायरी हिंदी में – मत पूछो कैसे गुजरता है

मत पूछो कैसे गुजरता है हर पल तुम्हारे बिना,
कभी बात करने की हसरत कभी देखने की तमन्ना…


हसरत शायरी हिंदी में – ख़ुदा का शुक्र है की

ख़ुदा का शुक्र है की ख़्वाब बना दिए…
वरना तुम्हें देखने की तो हसरत ही रह जाती…!


हसरत शायरी हिंदी में – इन हसरतों को इतना भी

इन हसरतों को इतना भी कैद में ना रख ए-जिंदगी,..
ये दिल भी थक चुका है, इनकी जमानत कराते कराते…..