GN Shayari – मुझे रुला कर सोना.. तो तेरी

मुझे रुला कर सोना..
तो तेरी आदत बन गई है,
जिस दिन मेरी आँख ना खुली..
तुझे निंद से नफरत हो जायेगी.

Leave a Reply