Gulzar Saab Ki Chuninda Shayari, Quotes, Poetry, Status And Wallpapers

Gulzar Shayari Wallpaper Hindi - Aap Ke Baad Har Ghadi Humne Aapke Saath Hi Guzari Hai - Selected Poetry By Gulzar Saab
Gulzar Shayari Wallpaper Hindi – Aap Ke Baad Har Ghadi Humne Aapke Saath Hi Guzari Hai – Selected Poetry By Gulzar Saab

Gulzar Shayari, Gulzar Quotes, Gulzar Poetry, Gulzar Shayari Wallpapers

आप के बाद हर घड़ी हम ने
आप के साथ ही गुज़ारी है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Shayari Hindi

अपने माज़ी की जुस्तुजू में बहार
पीले पत्ते तलाश करती है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Shayari Hindi

अपने साए से चौंक जाते हैं
उम्र गुज़री है इस क़दर तन्हा

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

गुलज़ार कोट्स-शायरी

आँखों के पोछने से लगा आग का पता
यूँ चेहरा फेर लेने से छुपता नहीं धुआँ

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Best Gulzar Shayari Hindi

आँखों से आँसुओं के मरासिम पुराने हैं
मेहमाँ ये घर में आएँ तो चुभता नहीं धुआँ

Bal Diwas Shayari, Children Day Par Shayari, Children Day Shayari, Bal Diwas Par Shayari

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Shayari Wallpaper Hindi - Aaina Dekhkar Tasalli Hui - Selected Poetry By Gulzar Saab
Gulzar Shayari Wallpaper Hindi – Aaina Dekhkar Tasalli Hui – Selected Poetry By Gulzar Saab

Heart Touching Gulzar Shayari Hindi

आइना देख कर तसल्ली हुई
हम को इस घर में जानता है कोई

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Best Gulzar Shayari Hindi 2 Lines

आज की दास्ताँ हमारी है
कल का हर वाक़िआ तुम्हारा था

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Selected Gulzar Shayari Hindi

आदतन तुम ने कर दिए वादे
आदतन हम ने ए’तिबार किया

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Selected Gulzar Shayari Hindi

आप ने औरों से कहा सब कुछ
हम से भी कुछ कभी कहीं कहते

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Selected Gulzar Shayari Hindi

उसी का ईमाँ बदल गया है
कभी जो मेरा ख़ुदा रहा था

TOP 25 TEHZEEB HAFI SHAYARI IN HINDI – TEHZEEB HAFI POETRY WALLPAPERS

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

2 Lines Shayari By Gulzar

एक सन्नाटा दबे-पाँव गया हो जैसे
दिल से इक ख़ौफ़ सा गुज़रा है बिछड़ जाने का

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Shayari Wallpaper Hindi - Hum Ko Bhi Intezar Dikhe - Selected Poetry By Gulzar Saab
Gulzar Shayari Wallpaper Hindi – Hum Ko Bhi Intezar Dikhe – Selected Poetry By Gulzar Saab

Hindi Shayari By Gulzar

कभी तो चौंक के देखे कोई हमारी तरफ़
किसी की आँख में हम को भी इंतिज़ार दिखे

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Khamoshi Shayari By Gulzar

कितनी लम्बी ख़ामोशी से गुज़रा हूँ
उन से कितना कुछ कहने की कोशिश की

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Original Shayari By Gulzar

कोई अटका हुआ है पल शायद
वक़्त में पड़ गया है बल शायद

दिल अगर है तो दर्द भी होगा
इस का कोई नहीं है हल शायद

MUSKURAHAT SHAYARI IN HINDI – BEST 34 ROMANTIC LOVE SMILE POETRY

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Song Shayari By Gulzar

ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी थी
उन की बात सुनी भी हम ने अपनी बात सुनाई भी

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Original Shayari Bollywood Song Hindi Lyrics By Gulzar

ख़ुशबू जैसे लोग मिले अफ़्साने में
एक पुराना ख़त खोला अनजाने में

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Shayari By Gulzar Saab

गो बरसती नहीं सदा आँखें
अब्र तो बारा मास होता है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Shayari Wallpaper Hindi - Zindagi Yun Hui Basar Tanha - Selected Poetry By Gulzar Saab
Gulzar Shayari Wallpaper Hindi – Zindagi Yun Hui Basar Tanha – Selected Poetry By Gulzar Saab

Kadwa Sach Shayari By Gulzar Saab

ज़िंदगी यूँ हुई बसर तन्हा
क़ाफ़िला साथ और सफ़र तन्हा

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Shayari By Gulzar Saab

चंद उम्मीदें निचोड़ी थीं तो आहें टपकीं
दिल को पिघलाएँ तो हो सकता है साँसें निकलें

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Ke Chuninda Sher

ज़ख़्म कहते हैं दिल का गहना है
दर्द दिल का लिबास होता है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Ke Chuninda Sher

जब भी ये दिल उदास होता है
जाने कौन आस-पास होता है

ZUBAIR ALI TABISH SHAYARI IN HINDI – QUOTES, POETRY, STATUS AND WALLPAPERS

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

गुलज़ार शायरी हिंदी फॉण्ट में

ज़िंदगी पर भी कोई ज़ोर नहीं
दिल ने हर चीज़ पराई दी है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

गुलज़ार शायरी Hindi Text

जिस की आँखों में कटी थीं सदियाँ
उस ने सदियों की जुदाई दी है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

गुलज़ार शायरी Quotes Wallpaper हिंदी फॉण्ट

तुम्हारे ख़्वाब से हर शब लिपट के सोते हैं
सज़ाएँ भेज दो हम ने ख़ताएँ भेजी हैं