Zubair Ali Tabish Ki Chuninda Shayari, Quotes, Poetry, Status And Wallpapers

तुम्हे देख कर कुछ तो भुला हुआ हूँ
अरे याद आया मैं रूठा हुआ था
मैं शायद उसी हाथ में रह गया हूँ
वही हाथ जो मुझ से छूटा हुआ था

Hindi Shayari By Zubair Ali Tabish
Zubair Ali Tabish Hindi Poetry Images – Aree Yaad Aaya Rutha Hua Tha Main

Zubair Ali Tabish Ki Chuninda Shayari, Quotes, Poetry, Status And Wallpapers

तुम्हे देख कर कुछ तो भुला हुआ हूँ
अरे याद आया मैं रूठा हुआ था
मैं शायद उसी हाथ में रह गया हूँ
वही हाथ जो मुझ से छूटा हुआ था

Hindi Shayari By Zubair Ali Tabish

=-=-=-=-=-=-==-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

तेरे ख़त आज लतीफ़ों की तरह लगते हैं
ख़ूब हँसता हूँ जहाँ लफ़्ज-ए-वफ़ा आता है

Hindi Shayari By Zubair Ali Tabish

=-=-=-=-=-=-==-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Read more

Gulzar Saab Ki Chuninda Shayari, Quotes, Poetry, Status And Wallpapers

Gulzar Shayari Wallpaper Hindi - Aap Ke Baad Har Ghadi Humne Aapke Saath Hi Guzari Hai - Selected Poetry By Gulzar Saab
Gulzar Shayari Wallpaper Hindi – Aap Ke Baad Har Ghadi Humne Aapke Saath Hi Guzari Hai – Selected Poetry By Gulzar Saab

Gulzar Shayari, Gulzar Quotes, Gulzar Poetry, Gulzar Shayari Wallpapers

आप के बाद हर घड़ी हम ने
आप के साथ ही गुज़ारी है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Gulzar Shayari Hindi

अपने माज़ी की जुस्तुजू में बहार
पीले पत्ते तलाश करती है

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Read more

35 Selected Husn Shayari Hindi Mein – तेरे हुस्न की क्या तारीफ़ करू शायरी – हुस्न शायरी कलेक्शन

Tere Husn Ki Kya Tareef Karu Shayari Wallpaper - Husn Beautiful Beauty Gorgeous Girlfriend GF Hindi Poetry
Tere Husn Ki Kya Tareef Karu Shayari Wallpaper – Husn Beautiful Beauty Gorgeous Girlfriend GF Hindi Poetry

Tere Husn Ki Kya Tareef Karu Shayari, Mohabbat Shayari

तेरे हुस्न की क्या तारीफ़ करू,
कुछ कहते हुए भी डरता हूँ…
कही भूल से तू ना समझ बैठे,
के मैं तुझ से मोहब्बत करता हूँ…

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

तेरे हुस्न को किसी परदे की ज़रूरत ही क्या है,
कौन रहता है होश में तुझे देखने के बाद।

Read more


50+ Bachpan Shayari Hindi Mein – Children Poetry Quotes Status Suvichar On Child Love Kids

Children Shayari In Hindi, Bachpan Shayari Hindi Mein, Kids Quots In Hindi, Hindi Shayari On Childhood, Childhood Hindi Shayari, 2 Lines Shayari On Children, 2 Lines Shayari On Kids, 2 Lines Shayari On Bachpan,  4 Lines Shayari On Bachpan, 4 Lines Shayari On Children, 2 Lines Shayari On Childhood, Children Shero Shayari, Bal Diwas Shayari, Children Day Par Shayari, Children Day Shayari, Bal Diwas Par Shayari, Short Shayari On Kids, Bachon Par Hindi Shayari, Bachon Par Quotes, Bachon Par Suvichar, Hindi Shayari On Bachche, Hindi Quotes On Bachche, Hindi Suvichar On Bachche, Hindi Shayari On Bachpan, Hindi Quotes On Bachpan, Hindi Suvichar On Bachpan, Hindi Poetry When Missing Childhood, Bachpan Yaad Karte Hue Shayari, Zindagi Ki Bhagdaud Mein Bachpan Shayari

Bachpan Shayari Wallpaper Hindi Poetry Childhood Children Child Kids - Zindagi Phir Kabhi Na Muskurai Bachpan Ki Tarah
Bachpan Shayari Wallpaper Hindi Poetry Childhood Children Child Kids – Zindagi Phir Kabhi Na Muskurai Bachpan Ki Tarah

Bal Diwas Shayari, Children Day Par Shayari, Children Day Shayari, Bal Diwas Par Shayari

जिंदगी फिर कभी न मुस्कुराई बचपन की तरह
मैंने मिट्टी भी जमा की खिलौने भी लेकर देखे

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

School Shayari, Parinda Shayari, Ashiana Shayari, Kids Smile Shayari

सफ़र से लौट जाना चाहता है
परिंदा आशियाना चाहता है
कोई स्कुल की घंटी बजा दे
ये बच्चा मुस्कुराना चाहता है। .

=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=-=

Best Hindi Poem On Childhood, Bachpan Par Bahot Sundar Kavita

वो दिन भी क्या दिन थे,
काग़ज़ की कश्ती थी पानी का किनारा था,
खेलने की मस्ती थी ये दिल अवारा था,
कहाँ आ गए इस समझदारी के दलदल में,
वो नादान बचपन भी कितना प्यारा था।

जहां चाहा वहां रो लेते थे,
जहां चाहा वहां हंस लेते थे,
कभी पेंसिल गुम हो जाती थी,
तो कभी किसी की रबड़ चुरा लेते थे।

वो दिन भी क्या दिन थे,
झूठ बोला करते थे,
फिर भी मन के सच्चे थे,
ये तो उन दिनों की बातें है जब हम बच्चे थे।

न कुछ पाने की आशा थी,
न कुछ खोने का डर,
न कुछ ज़रूरी था,
ना किसी की ज़रूरत थी,
बस अपने सपनों का घर था,
और मां की मार का डर था।

वो दिन भी क्या दिन थे,
जब खुशियों का खजाना था,
चांद तारों की चाहत थी,
दादी मां की कहानी थी,
परियों का अपना फसाना था,
हर मौसम सुहाना था,

एक बचपन का जमाना था,
जिस में खुशियों का खजाना था..
चाहत चाँद को पाने की थी,
पर दिल तितली का दिवाना था..

जब थे दिन बचपन के,
वो थे बहुत सुहाने पल,
उदासी से न था नाता,
गुस्सा तो कभी ना आता था.

बारिश के पानी में खुद का एक जहाज़ था,
न शाम-सुबह का ठिकाना था,
न स्कूल जाने का मन था,
रोने की कोई वजह नहीं थी,
न हंसने का कोई बहाना था,

क्यों हो गए हम इतने बड़े,
इससे अच्छा तो हमारा बचपन का ज़माना था।
वो दिन भी क्या दिन थे।
वो दिन भी क्या दिन थे।
बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!

Read more

Chai Shayari Hindi Mein – New Chai Poetry 2022 – Latest Hindi Shayari On Tea

Chai Shayari Picture, Waqt Shayari Wallpaper, Gila Shikwa Shayari Image,  ऐ वक़्त जरा सुन तो, आ बैठ ना मेरे पास,एक-एक कप चाय पी कर गिला-शिकवा भुलाते हैं
Chai Shayari Picture, Waqt Shayari Wallpaper, Gila Shikwa Shayari Image

ऐ वक़्त जरा सुन तो, आ बैठ ना मेरे पास,

एक-एक कप चाय पी कर गिला-शिकवा भुलाते हैं

Chai Shayari, Waqt Shayari, Gila Shikwa Shayari

🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎

कभी तो साथ बैठो, ज़िन्दगी रिलैक्स हो जाये,

क्यों ना एक कप चाय और कुछ स्नैक्स हो जाये

Tea Poetry Hindi Mein, Zindagi Shayari, Relax Shayari

🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎🍵🤎

Read more

तोहफ़ा शायरी हिंदी में – Best 25 Tohfa Sher O Shayari – Romantic Sad Love Gift Shayari

Tohfa Shayari Wallpaper - Gift Shayari For GF BF Lover - Chahiye Kya tumhe Tohfen Mein Bata Do Varna चाहिए क्या तुम्हें तोहफ़े में बता दो वर्ना हम तो बाज़ार के बाज़ार उठा लाएँगे
Tohfa Shayari Wallpaper – Gift Shayari For GF BF Lover – Chahiye Kya tumhe Tohfen Mein Bata Do Varna

चाहिए क्या तुम्हें तोहफ़े में बता दो वर्ना

हम तो बाज़ार के बाज़ार उठा लाएँगे

अता तुराब

Tohfa Shayari, Bazar Shayari

****************************************************

आज तोहफा लाने निकला था शहर में तेरे लिए

कम्बखत खुद से सस्ता कुछ ना मिला

अज्ञात

Khud Se Sasta Shayari, Sad Tohfa Shayari

****************************************************

Read more


Ameer Qazalbash Shayari – Ik Parinda Abhi Udaan Mein Hai

इक परिंदा अभी उड़ान में है
तीर हर शख़्स की कमान में है

जिस को देखो वही है चुप चुप सा
जैसे हर शख़्स इम्तिहान में है

– अमीर क़ज़लबाश

Barsaat Sawan Ki Shayari – Tumhare Muntazir Rehte Hai Sawan Ke Haseen Jhule

तुम्हारे मुंतज़िर रहते हैं सावन के हसीं झूले
किया करती है याद अक्सर तुम्हें बरसात सावन की – राजेन्द्र नाथ रहबर

Khubsurat Aankhon Par Hindi Shayari – Dedicted to Girl Friend & Lover

इश्क के फूल खिलते हैं तेरी खूबसूरत आंखों में..,

जहां देखे तू एक नजर वहां खुशबू बिखर जाए॥….



तुम्हारी याद शायरी हिंदी में – तुम्हारा ज़िक्र तुम्हारी तमन्ना तुम्हारी याद

तुम्हारा ज़िक्र,
तुम्हारी तमन्ना,
तुम्हारी याद,
वक़्त कितना क़ीमती है इन दिनों…