Tag: ajnabi shayari hindi mein

अजनबी शायरी हिंदी में – बदल लेंगे हम खुद को

बदल लेंगे हम खुद को इतना, की तुम भी न पहचान पाओगे हमें।।
अगर कभी सोचोगे हमारे बारे में, हमें पूरी तरह अजनबी पाओगे।

अजनबी शायरी हिंदी में – कल तक तो सिर्फ़

कल तक तो सिर्फ़ एक अजनबी थे तुम…
आज
दिल की हर एक धड़कन पर हुकूमत है तुम्हारी…

अजनबी शायरी हिंदी में – न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ

न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ से आ गयी उस अजनबी के लिए,
की मेरा दिल भी उसकी खातिर अक्सर मुझसे रूठ जाया करता है …..

अजनबी शायरी हिंदी में – न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ

न जाने इतनी मोहब्बत कहाँ से आ गयी
उस अजनबी के लिए,
की मेरा दिल भी उसकी खातिर अक्सर
मुझसे रूठ जाया करता हे ..!!